मोटापा कम कैसे करें (How to lose Weight)

मोटापा कम करने के बहुत से उपाय है। लेकिन सबसे पहले हमें motapa के बारे में अच्छी तरह जानकारी लेनी होगी की , आखिरकार मोटापा है क्या। आइये दोस्तों इस Article में हम बात करते है की motapa Ko kam kaise karen .

आज के इस Modern युग में हर कोई Fit और Slim रहना चाहता है। इसके लिए मोटे लोग dieting करने Start कर देते है। इससे होता यह है की उनका मोटपा तो कम हो जाता है लेकिन उनकी चमड़ी loose हो जाती है , और वो अनेक बिमारियों के शिकार हो जाते है। 

हमें अपने Weight को कम करने के लिए धैर्य , मेहनत और सही Diet की जरुरत होती है। हम बिना dieting पर रहे बिना अपना Weight Decrease कर सकते है। 

motapa kam kaise karen

हमारे शरीर का एक BMI (Body Mass Index ) होता है। जिससे हमारे Body की मांसपेशियाँ , Fat , Energy के Level का पता चलता है। 

यदि  हमारे Body में मांसपेशियों की अपेक्षा Fat ज्यादा है तो यह हमारे लिए खरता है। ज्यादातर लोगों की सोच है की हम मोटे है और हमें पतला होना है तो हमें भागना (दौड़ना ) होगा। फिर वो बिना सोचे समझे Exercise , Dieting और Running करना Start कर देते है। इससे तो वो दुबले तो हो जाते है लेकिन , उम्र से पहले उनका चमड़ी loose पड़ जाते है , और वो कमजोरी का शिकार हो जाते है , और सोचते है की अब तो हमने अपना Weight loose कर लिया है। अतः अब हमें Dieting और Exercise की जरुरत नहीं है , और वो  सब कुछ करना छोड़ देते है। ऐसे में उनका Weight Loose होने के बजाये पहले से Double हो जाता है। 

हमें तो अपना Weight Loose करना है लेकिन Body को बिना नुकसान पहुँचाए।हमें अपने Daily Routine में थोड़ा बहुत Changing करनी है और अपना Weight Loose करने है। 

हमें अपने Weight Loose करने है लेकिन केवल Fat या mussels को नहीं। हमें अपने Nutrition की जानकारी ही नहीं होती है और हम अपना Weight loose करने में लग जाते है। विदेशों में जो कम पढ़े लिखे होते है उन्हें भी अपने Nutrition के बारे में Total जानकारी होती है। वही हमारे India में Well Educated लोगो को भी अपने Nutrition के बारे में जानकारी नहीं होती है। हमारे Body में Fat , Mussels ,Vitamins सभी की जरुरत होती है। हमारे mussels से Body में ऊतकों की वृद्धि होती है। Fat से हमारे चेहरे पे Glow होती है। Phasphoras ,calcium ,Vitamins से हमारी Bone strong होती है। 

motapa kam karen
Time to start that diet

मोटाप बढने का मुख्य कारण –

मोटपा बढ़ने  का बहुत से करन हो सकते है , जैसे की आप अपने शरीर के अनुसार Work नहीं कर रहे है , ज्यादा तला या भुना खाना खा रहे हो। आइये हम आपको सारे कारण बताये जिसके कारण मोटपा बढ़ते है। 

1.  शारीरिक श्रम न करना 

 बहुत से  ऐसे लोग है जो शारीरिक श्रम नहीं करते हैं , ऐसे में उनकी Energy FAT के रूप में जमा हो जाता है और वे बहुत जल्दी मोटे हो जाते है। 

2. अत्यधिक समय तक बैठे रहना 

ऐसे लोग जो 8-10 घंटे बैठे – बैठे काम करते है उनके मोटे होने की संभावना भी ज्यादा होती है। ऐसे में अधिकतर लोग जो office में बैठे – बैठे Computer या Laptop में काम करते है , जल्दी मोटे हो जाते है। 

3. Fast Food का सेवन  

आजकल की भाग – दौड़ भरी जंदगी में लोग अत्यधिक जंक फूड का इस्तेमाल करते है। उनके पास खाना बनाने का Time नहीं होता है , तो वो जल्दी – जल्दी में Snacks ,Pizza ,Cake , Burger ,Maggie ,Noodles  इत्यादि खाद्य पदार्थों का सेवन करते  है। इन सभी Fast Food में अत्यधिक वसा पाए जाते है , जो की Weight बढ़ाने में सहायता करते है। 

4 . Diet सही तरीके से न लेना 

हमारे Busy life में भोजन करने का कोई Definite Time नहीं होता है। किसी दिन किसी Time तो किसी और दिन किसी अन्य समय पर खाना खाते है। ऐसे में होता यह है की जब हम ज्यादा देर के बाद खाना कहते है , तो आवश्य्कता से अधिक भोजन कर लेते है। ऐसे में हमारा Weight बढ़ना स्वाभविक होता है। 

motapa hone ke karan

5 . मोटपा एक बीमारी 

मोटपा एक बीमारी भी है। इसमें कोई व्यक्ति कितना भी अपना खाने – पीने पर Control करे वह दुबला नहीं हो पाता है। ऐसे में उन्हें Doctor से मिलना चाहिए। 

वैसे तो मोटा कोई भी व्यक्ति हो सकता है , चाहे वो Women हो या , Men या फिर कोई Child हो। मोटापा किसी भी व्यक्ति की सुंदरता नस्ट कर देता है , और समाज में हास्य का कारण बना देता है। 

6 . अनुवांशिक कारण ( Genetic Cause )

मोटापा कभी – कभी Genetic कारणों से भी होता है। अगर parents मोटे है तो उनके Child भी मोटे होंगे। ऐसे में कोई भी उपाय अपना लिए जाये मोटापा कम नहीं होगा। 

7. बाजार का सामान अधिक प्रयोग करना या तैलीय पदार्थ का ज्यादा सेवन करना  

बहुत से ऐसे लोग है जी बाजार से ख़रीदा हुआ पूड़ी , पराठा , पकौड़ी इत्यादि खाने के शौकीन होते है , जो मोटापा का एक कारण है , क्यूँकि बाजार में मिलने वाले ये सारे सामान अच्छे नहीं होते है। दुकानदार एक ही refine oil में महीनों – महीनों से पूड़ी – पकौड़े छानते है , पर कभी उस Refine oil को Change नहीं करते , जो हमारे शरीर के लिए खरतनाक है। 

मोटपा को कम कैसे करें (motapa ko kam kaise karen )

हम अपनी Daily Life में थोड़े से Changing करके अपनी मोटपा को काम कर सकते है। मोटापा को काम करने के निम्न तरीके हो सकते है। 

1 . Morning Walk 

हमें Daily 20 – 25 minutes सुबह की ताजी हवा में तेज़ – तेज़ कदमों से चलना चाहिए। जब हम सुबह चलते है तब हमारे शरीर में मौजूद Extra Fat burn होते है और शरीर Healthy बनते है। 

2. Exercise करें 

exercise karen

I . तिर्कताड़ासन –

इस Exercise के लिए अपने दोनों पैरों के बीच कुछ फासला रखे। फिर दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए एक दूसरे से जोड़ ले और फिर एक बार Right side झुके और एक बार left side जितना झुक सके झुके। इस Exercise को Daily 25 बार करें। 

II . त्रिकोनासन – 

दोनों पैरों को फैला कर  खड़े हो जाएँ। फिर Right Hand को धीरे – धीरे नीचे दाहिने टखने के पास के जाएँ तथा Left Hand कान से सटा हुआ बिल्कुल सीधा रखे। फिर पुनः सीधे खड़े हो जाएँ और अब Left हाथ को धीरे – धीरे बांयें टखने के पास ले जाये और Right Hand कान से बिलकुल सटा कर सीधे रखे। इस तरह जब Exercise हो जाये तो अपनी शक्ति  तेज़ी से करे। लम्बी – लम्बी स्वास ले।  इसे कम से कम 10 – 50 बार करे। 

III . कोनाशन 

दोनों पैरों को फैला कर खड़े हो जाएँ। फिर Right Hand से Left Leg के अंगूठे को छुएँ और Left Hand को सीधा ऊपर रखेंगे। फिर हाथ बदलते हुए Left Hand से Right Leg के अंगूठे को छुएंगे , और Right Hand को सीधा ऊपर रखेंगे। अपनी ठुढी को घुटने से लगा लेंगे। पहले थोड़ा सा रुक – रुक कर करेंगे और जब Exercise हो जाये तब तेज़ी से करेंगे। इसे कम से कम 20 बार करेंगे। 

IV . पादहस्तासन  

दोनों पैरों को सटा कर सीधे खड़े हो जाएँ। श्वास भरते हुए दोनों हाथ सामने ऊपर उठाते हुए पीछे ले जाएँ फिर स्वास  छोड़ते हुए फिर आगे की तरफ झुक जाएँ। अपनी हथेलियों  स्पर्श करेंगे। सर को घुटनो से लगाए।  इसे कम से कम 10 -20 बार करे। 

V . सिथिककोणासन 

पैरों को खोल लेगें। दोनों हाथ कंधों के सामानांतर दाहिने हाथ से बाएं Leg के अँगूठे को छूना तथा बाँये हाथ पीछे हथेली सामने की ओर और उस हथेली को देखंगे। फिर जितना हो सके maximum side में घूम जाएँ बिच में नहीं रुकेंगे। फिर दूसरे हाथ से जितना हो सके maximum side में घूम जाए। फिर जब Exercise हो जाये तो थोड़ी तेजी से करेंगे। आगे जितना हो सके घूम जायेंगे पुनः सामान्य स्थिति लौट जाएँगे। 

VI . सूर्यनमस्कार 

लम्बा शवास भरते हुए पीछे के तरफ दोनों हाथ को ले जायेंगे , फिर आगे की तरफ झुक जायेंगे। दाहिने पैर पर बैठ जायेंगे। फिर पीछे झुकते हुए श्वास अंदर भरते हुए , आगे झुकते हुए श्वास बार करते हुए बाएँ पैर पीछे  जाए। फिर छाती को घुटनों को ठुडी को भूमि को स्पर्श करके फिर बीच (कमर) से उठे , फिर Left Leg आगे फिर Right Leg आगे। श्वास बाहर छोड़ कर पूरा झुकेंगे। फिर  हाथ को पीछे ले जाएँगे। फिर हाथ को नमस्कार की स्तिथि  लाएँगे। 

VII . चक्की आसन 

पैर को सीधा आगे  की तरफ फैला कर बैठ जायेंगे , फिर दोनों हाथों को जोड़कर बड़ा दो Zero बनाएँगे। इसे कम कम 25 -30 बार करें। इन आसनों  अलावा भस्त्रिका प्राणायाम , कपालभाति , अनुलोम-विलोम आसान हमारे मोटपा घटाने में Help करता है। 

3 . अधिक पानी का सेवन  

हमें अपना Weight Loose करने के लिए Summer के season में Normal water 4 -5 liter तक तथा winter के season में हलका गुनगुना पानी 3 – 4 liter पीना चाहिए। 

4 . Diet सही Time पर ले 

एक कहावत है ” नाश्ता एक राजा की तरह  और  रात का खाना एक भिखारी की तरह लेनी चाहिए। ” 

सुबह – सुबह उठ कर हमें हल्का गर्म पानी में Honey और lemon डाल कर पीनी चाहिए। 

Morning Time हमारे शरीर का मेटाबोलिज्म कम होता है। अतः  कम से काम एक फल खाना चाहिए। साथ ही रात को फुलाया गया 4 Almond बादाम छिल कर खा लेना चाहिए। इससे हमारा Body Charge हो जाती है। 

हमें अपना नाश्ता 9 से 9:30 के बीच कर लेना चाहिए। Breakfast में हमें अधिक से अधिक सलाद , Fruit ,Juice का सेवन करना चाहिए। एक ही नास्ता Daily करने के बजाए इसे Change कर लेना चाहिए। जैसे किसी दिन अंकुरित चना , मूँग ,पोहा ,बेसन का चीला , Brown Bread Oats , pea Nut Butter का सेवन करना चाहिए। अपनी Weight के अनुसार Protein powder का इस्तेमाल करना चाहिए।  जैसे यदि Weight 70 Kg है तो 25 gram Protein Powder लेनी चाहिए। 

12 बजे के आस पास कोई भी मौसमी फल लेनी चाहिए। इससे हमारे Body की Fiver की आपूर्ति हो जाती है। 

2 बजे खाना खाने चाहिए। इसमें अधिक अधिक सलाद , 2 रोटी , mix Vegetables , चावल , दही , अलग – अलग प्रकार की दाल होनी चाहिए। 

5 बजे पुनः 4 – 5 अखरोट ले। 

Dinner 7 बजे तक कर लेना चाहिए। इसमें 2 रोटी , सलाद और सब्जियाँ होनी चाहिए। 

सोने से एक घंटा पहले बिना sugar का गर्म दूध ले। हमें अपने खाने को अच्छे तरह चबा – चबा कर  कम से काम 32 बार चबाकर खाना चाहिए। स्वामी रामदेव के अनुसार – हमें Solid को Liquid की तरह और Liquid को Solid की तरह खाने चाहिए। 

हमें Daily अपने खाने में अन्न की अपेछा अधिक Vegetables और Fruits का सेवन करना चाहिए। अन्न हमारे मोटापे का कारण होता है।  

5 . अच्छी नींद ले 

हमें Time से सोना और Time से जगना चाहिए। हमें कम से कम 6 – 8 घंटे की नींद अवश्य लेनी चाहिए सोने से हमारी Body Relax होती है। 

6 . Physical Activity करें 

हम जितना खाना खाते है उसकी calorie Burn करने के लिए हमें physical Work  चहिए नहीं तो वही calorie हमारी Body में Fat के रूप में जमा होने लगती है ,  हम मोटा होने लग जाते है। शारीरिक श्रम करने से हमारा Body और Mind दोनों Healthy रहता है। 

दादी – माँ के नुस्खे जिससे मोटपा कम किया जा सकता है 

  •   Tea की जगह Green Tea लेनी की आदत बनाये। 
  • पुदिनी वाली Tea पियें या इसकी चटनी बनाकर इसका सेवन करने।
  • मिश्रित दाल (मूंग , चना ,अरहर ) , मिश्रित आटें (सोयाबीन ,चना ,मक्के ,गेहूँ ,बाजरा ) का प्रयोग करें। 
  • Fruits (पपीता ,गाजर,तरबूह,खीरा ) और सब्जिओं का अधिक से अधिक  सेवन करें। इसमें calories कम होती है। 
  • आँवले और हल्दी को बराबर मात्रा में पीसकर चूर्ण बना ले और इस चूर्ण को छाछ के साथ ले। 
  • छोटा पीपल का बारीक़ चूर्ण करके उसे कपडे से छान ले और यह चूर्ण तीन ग्राम रोज  सुबह के समय छाछ के साथ लेने से मोटापा कम हो जाता है जाता है। 
  • आधा चमच्च सौंफ को एक कप उबलते पानी में डाल दे। 10 minutes इसे ढककर रखे और ठण्डा होने पर इसे पियें। ऐसा लागातर 3 months तक करने से Weight कम हो जाता है। 
  • अपामार्ग या चिड़चिड़ा के बीजों को एकत्रित ले। किसी मिट्टी के बर्तन में इसे भूनकर पीस ले। एक चमच्च दिन में दो बार फाँके , मोटापे काम करने में बहुत फायदा होगा। 
  • सौंठ , दालचीनी की छाल और काली मिर्च 3 ग्राम पीस कर चूर्ण बना ले। सुबह खली पेट और रात को सोने से पहले , पानी के साथ ले।  

मोटापा में क्या न खाएँ 

अपने मोटापे को नियंत्रण  में रखने के लिए निम्न चीज़ों से परहेज करे। 

  • मिठाइ से परहेज करें। इसमें ज्यादा मात्रा में calories होते है, जो मोटापा बढ़ाने में सहायक है। 
  • तैलीय पदार्थो से परहेज करें। 
  • Fast Food का सेवन जितना कम हो सके करें। 
  • चावल , White Bread , चीनी , नमक को कम से कम सेवन करें। 
  •  खाना खाने के 1 घण्टे तक पानी न पिएं क्यूँकि जठराग्नि इस समय तीव्र होती है और पानी पिने से जठराग्नि मंद पड़ जाती है और भोजन पचने नहीं देती है। 
  • Freeze का पानी नहीं पीना चाहिए। हमें अपने Body Temperature की तुलना में पानी पीनी चाहिए। 
  • भारतीय संस्कृति के अनुसार हमें रात का खाना सूर्यास्त से पहले कर लेना चाहिए क्यूँकि सूर्यास्त के बाद जठराग्नि मंद पड़ जाती है और भोजन पचने में भरी हो जाता है जिससे मोटपा बढ़ जाता है। 

मोटापा कम करने  के लिए Medicine

मोटापा को कम करने  लिए कुछ महत्वपूर्ण औसधि है। जिनका नियमित रूप से उपयोग करके हम अपने मोटापे को कम कर सकते है। 

motapa me kon si medicine le

I . अश्वगन्धा  

अश्वगन्धा की तीन – तीन पतियाँ सुबह , दोपहर और शाम को खाएँ। अगर पतियाँ न मिले तो आप 
अश्वगन्धा के चूर्ण बाजार से ले। अश्वगन्धा में Mass Muscles तथा Strength  बढाने की क्षमता बहुत होती है। यह कॉलेस्ट्रॉल को Control में रखता है। टेस्ट्रोस्ट्रॉन तथा इनफर्टिलिटी को पुरुषों में बढ़ाता है। इसके एक महीने तक सेवन से 5 Kg तक Weight Loose कर सकते है। 

II . मेदोहरवटी 

मेदोहरवटी हमारी Energy को बढ़ाता है। इम्युनिटी System को बढ़ाता है। Heart Blockage को खोलता है। Harmon’s और Digestive Process को Control करता है। इसका Daily 2 – 2 Tablet Morning और Night में लेने से 3 – 5 Kg तक Weight Loose हो जाते है। 

III . गोमूत्र  

गोमूत्र में Potassium ,magnesium ,Chloride ,Phosphate , ammonia ,केरोटीन ,स्वर्ण , क्षार इत्यादि पोषक तत्व पाएँ जाते है। आधे गिलास ताज़े पानी में 4 चमच्च गोमूत्र , 2 चमच्च शहद ,1 चमच निम्बू का रस मिलाकर Daily सेवन करने से हमारा मोटापा बहुत जल्दी दूर हो जाता है। इसके एक महीने के सेवन मात्र से 3 – 5 kg तक का Weight loose हो जाता है। 

IV . त्रिफला चूर्ण 

आवँला ,बहेड़ा और हरड की समान मात्रा लेकर चूर्ण बना ले बना लें , तथा सुबह – सुबह 10 –  grams गुनगुने पानी के साथ ले। इसमें पाचन और भूख को बढ़ाने की शक्ति होती है। यह शरीर के फालतू फैट की मात्रा को काम करता है। त्रिफला में गैलिक Acid , एलाजिक एसिड और सेबुलिनीक Acid होते है , जो एक मजबूत Antioxident का काम करता है। इसमें antibacterial , antiflammofary , antidiarrheal की क्षमता होती है। 

V . गिलोय  

गिलोय का सेवन से हम अपने मोटापे को काम कर सकते है। मोटापा , अर्थराइटिस , चिकनगुनिया , पलेट्लेट्स , डेंगू ,इम्युनिटी Disess को भी कम करता है। 

हमें अपने मोटापे को दूर करने के लिए इन सारी बाताये बातें को Follow करने के अलावा , धैर्य ,संयम , परहेज करने होंगे।   

Leave a Reply