लहसुन खाने के फायदे और नुकसान Lahsun khane Ke fayde aur nuksan

lahsun एक खाध्य पदार्थ है, जिसे Daily हम मसाले के रूप में अपने भोजन को स्वादिस्ट बनाने के लिए करते है। पर क्या आप जानते है की यह हमारे Health के लिए कितना लाभदायक है।

lahsun-khane-ke-fayde

लहसुन एक Medicine पौधा है , जिसका use कर के हम बहुत से खतरनाक बिमारियों से बच सकते है।

Lahsun का औषधीय गुण :-

लहसुन के English में हम Garlic कहते है , जिसका वैज्ञानिक नाम ” एलियट सैरीवुमं एल है।

लहसुन में एलिसन नमक तत्व पाए जाते है , जो की Antibacterial , Antiviral ,antifungal और antioxdent का काम करते है। Lahsun में Vitamins और Minerals भी भरपूर मात्रा में पाए जाते है।

इसके अलावा विटामिन B1 , B6 , C , Magnesium , Calcium , Copper और सेलेनियम भी पाये जाते है।

लहसुन में sulphur होते है , जो इसके तीखे गंध और स्वाद के लिए उत्तरदायी होते है। लहसुन के प्रति 100 Grams में 6.3 % Protein , 0.1 % Fats ,21 % Carbotydrate ,1 %
Minerals , 1.3 % चूना , 1.3 % Iron होते है।

लहसुन में रासायनिक तौर पर गंधक की अधिकता होती है , इसे पीसने पर एलिसिन नामक यौगिक बन जाता है , जो की Antibiotic गुणों से भरपूर होता है। इसके अलावा Protein , सैपोनिन आदि पदार्थ पाए जाते है।

Lahsun का आयुर्वेदिक उपयोग :-

लहसुन हमें अनेक छोटे – बड़े बिमारियों से छुटकारा दिलाता है। आइये जानते है की किस बीमारी में किस प्रकार और कैसे लहसुन का Use करके अपनी बिमारियों से निजात पा सकते है।

lahsun-khane-ke-fayde

Weight Loose करने में :-

सुबह – सुबह खाली पेट 4-5 Lahsun की कलियाँ चबा – चबाकर खाये और करीब 1 लीटर हल्का गर्म पानी पियें। खाने के 10 – 15 मिनट बाद यदि running (दौड़ना) करते है , तो ये आपके लिए सोने पर सुहागा होगा। दौड़ने के दौरान Lahsun आपके Fats को Burn करती है , जिससे आपके शरीर की वजन कम हो जाती है।

Antiseptic के रूप में :-

यदि आपको दाद , खाज , खुजली हो तो , 1 glass पानी में 2 या 3 Lahsun की कली को पीसकर डाल दे , फिर उस पानी से उस स्थान को दिन में दो से तीन बार धोये , बहुत जल्द आपको आराम मिलेगा। साथ ही खाली पेट कच्चा लहसुन की 3 – 4 कली खाये।

इम्युन System बेहतर करने में :-

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए 2 या 3 लहसुन को सुबह – शाम गर्म पानी के साथ लेना चाहिए। इसमें Vitamin C , B6 और minerals होते है जो की हमारे शरीर में इम्युनिटी System को boost करने का काम करते है। साथ ही साथ संक्रमण से भी बचाते है। लहसुन पाचन तंत्र को भी मजबूत करते है।

आर्थेराइटिस और गठिया रोग में :-

गठिया के मरीजों को 8 – 10 लहसुन की कली को 1 glass सरसों के तेल में डालकर उबाले , जब तेल उबलते – उबलते आधा रह जाए तब उसे छान ले। सुबह – शाम इस तेल से उलटे हाथ से मालिश करे , बहुत फायदा होगा। इसका एंटी – ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेंटरी गुण गठिया के दर्द में काफी आराम पहुँचाता है।

हाइपरटेंशन को Control करने में :-

लहसुन high Blood pressure को Control करता है। सुबह – सुबह खली पेट कच्चा lahsun का 3 – 4 कली चबा – चबाकर खाये। यह खून को पतला करने तथा Flow को बढ़ाने का काम करता है।

Heart को healthy रखने में :-

लहुसन हमारे Heart Attack की संभावना को काफी हद तक कम कर देता है। यह Blood को पतला कर देता है। जिससे Blood हमारी Heart तक आसानी से पहुँच जाती है।

यह heart blockage को open करता है।

यह Blood circulation और Low cholesterol को बनाए रखता है। सुबह सुबह 4 -5 काली खानी चाहिए।

Diabetes में लाभदायक :-

Diabetes के मरीजों को Daily सुबह खाली पेट 4 -5 कली खानी चाहिए। यह Blood circulation को बढ़ाता है। इसका उपयोग 2 – 3 सालों तक लगातार करने से Diabetes के दवाओं का सेवन नहीं करना पड़ता है।

सर्दी – खाँसी बुखार में :-

सर्दी – खाँसी में भी लहसुन एक कारगर दवा का काम करती है। स्वाँस संबधी बीमारि भी इससे ठीक हो जाती है। 1 चम्मच काली मिर्च लहसुन पीसकर फेट ले और सुबह – दोपहर शाम में सूँघे , इससे काफी राहत मिलता है।

Sexual Disorder में :-

लहसुन पौरुष ताकत बढ़ाने में भी सहायक है। लगातार 15 दिनों तक इसका सेवन करने से आप अपनी क्षमता हासिल कर सकते है। 25 – 30 निम्बू का जूस निकाल ले और इसमें 10 – 15 लहसुन का पेस्ट मिलकर 24 घण्टे तक रख दे। इसका उपयोग सुबह – शाम एक कप पानी में एक चम्मच इस रस को डाल कर पियें , कुछ ही दिनों में आप फर्क महसूस कर सकते है।

लहसुन वीर्य बढ़ाने का काम करता है। ये Sperm Count बढ़ाने का भी काम करते है।

Cancer की रोकथाम में :-

कच्चा लहसुन के Daily सुबह खाली पेट 4 -5 काली खाने से कैंसर के cell मर जाते है। लहसुन कैंसर को काफी हद तक ठीक कर देता है।

सोरोयासिस में लाभदायक :-

सोरोयासिस एक skin Disease है। इसमें लहसुन काफी फायदेमंद होता है।

2 – 3 लहसुन की कली को पीसकर एक glass में फेटकर पियें। 250 ml olive oil में 2 – 3 लहसुन डाल कर उबाल ले , और फिर छानकर प्रभावित स्किन पर लगाए। चर्म रोगियों को काफी राहत मिलती है।

Metabolism सही करने में :-

लहसुन में रोगप्रतिरोधक क्षमता होती है। इसकी तासीर गर्म होती है। ये Metabolism system को Control रखता है , क्यूँकि कभी – कभी metabolism system की गड़बड़ी से हमारे शरीर की वजन कभी ज्यादा कम और कभी ज्यादा बढ़ जाती है। ये हमारे शरीर में cholesterol को भी नियंत्रित करता है।

Body Deoxidate करने में :-

lahsan हमारी body को सफाई करता है। ये हमारे Body में Present कीटाणुओं को मर कर मल मूत्र के रास्ते हमारे Body से बाहर निकाल देता है। ये Blood को भी साफ करता है। अतः Daily अपनी Diet में लहसुन को रखने चाहिए।

दाँत दर्द में :-

दाँत दर्द होने पर दाँत के निचे लहसुन की कली रखने से आराम मिलता है।

पाइरिया होने पर Daily लहसुन के पानी से गरारे करनी चाहिए।

इसके अलावा Gas ,Acidity , कब्ज, दमा , किडनी इंस्फेक्शन , अनिद्रा ,मुँहासे को भी जड़ से ख़त्म करने लहसुन फायदेमंद है।

भुना लहसुन के फायदे

ऐसा नहीं है की हमेशा कच्चे Lahsun ही फायदा करते है , बल्कि भुना लहसुन भी खाने पर फायदा करता है। आइये कुछ भुने लहसुन के फायदे जाने।

लहसुन के 5 – 6 कलियों को शुद्ध घी में भून कर खाने से भी ये जबरदस्त फायदा करता है। एक Research के मुताबिक जब हम भुना हुआ लहसुन खाते है तो ये एक घंटे में पच जाते है, और हमारे Body पर प्रभाव करने start कर देता है।

2 – 4 घंटों बाद इसका Antioxidant हमारे शरीर पर प्रभाव करने start कर देता है और Cancer की पनपने वाली कोशिकाओं को मार देता है।

4 -6 घंटे बाद Lahsun Metabolism पर काम करने चालु करते है और Extra fat को कम Burn करना start करता है।

6 घण्टे बाद ये Blood के संक्रमण को मरता है।

10 घंटे बाद इसका पौस्टिक लाभ हमारे शरीर प्राप्त हो जाता है।

24 घंटे के भीतर ये Blood pressure को कम करता है।

cholesterol को कम करता है , विसैले पदार्थ को हमारे शरीर से बाहर निकलता है , तथा Bone को strong करता है।

कच्चा Lahsun खाने के फायदे बहुत है , लेकिन इसके नुकसान भी है। अतः इसे खाने से पहले Doctor से सलाह जरूर ले।

लहसुन के नुकसान

ऐसा नहीं है की Lahsun सिर्फ लाभदायक ही है। बहुत सारी परिस्थिति में Lahsun नुकसान भी करता है।

Lahsun-ke-labh
  • low Blood Pressure होने पर Lahsun नहीं खाने चाहिए। ये और low कर देता है।
  • अनीमिया होने पर , या जिन्हे Blood की कमी बनी रहती है , उन्हें लहसुन नहीं खानी चाहिए।
  • Pregnancy होने पर लहसुन नहीं खाये।
  • अगर किसी चीज़ की Surgery करवानी हो तो , 15 दिन पहले से लहसुन का सेवन न करे।
  • ऑपरेशन होने पर भी लहसुन न खाएं
  • यदि आपको पहले से Liver की बीमारी हो तो लहसुन न खाएं। यह पचने में दिकत करता है और लेट से पचता है। जिससे Liver पर असर पड़ता है।
  • पेट संबंधित बीमारी होने पर भी लहसुन का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • लहसुन खाने से मुँह से दुर्गन्ध आने की समस्या आ सकती है।
  • ज्यादा लहसुन खाने से गैस , उल्टी , एलर्जी पेट ख़राब , रक्त स्राव की समस्या आ सकती है।

लहसुन खाने से पहले अपने Doctor से जरूर सलाह ले। बिना सलाह लिए इसका सेवन न करें।

तो दोस्तों कैसा लगा ये पोस्ट Comment कर जरूर बताये, और अगर कोई Topic छूट गई हो तो भी बताये।

Leave a Reply